Pakistan Corona vaccine: नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (NCOC) ने कोरोना वैक्सीन को आतंकी हमलों से बचाने के लिए गाइडलाइन जारी की है. इसमें कहा गया है कि चीन में निर्मित कोरोना टीके सिनोफार्म को पाकिस्तान में स्वास्थ्यकर्मियों को लगाया जा रहा है.

इस्लामाबाद. देर से ही सही लेकिन पाकिस्तान (Pakistan) में भी अब कोरोना टीकाकरण का रास्ता साफ होता जा रहा है. मुश्किल से पाकिस्तान को कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) की 5 लाख टीके का वादा मिला, जिसकी पहली खेप देश में पहुंचने के वहां पर टीकाकरण की शुरुआत होगी. एक तरफ पाकिस्तान को वैक्सीन मिलने की खुशी है को दूसरी तरफ इमरान खान सरकार को डर सकता रहा है कि कहीं देश के आतंकी वैक्सीन की खेप को लूटकर न ले जाएं.

देश में पाले गए आतंकियों की फौज से कोरोना वैक्सीन को बचाने के लिए इसकी निगरानी के खास इंतजाम किए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा सेना की तैनाती, सीसीटीवी से निगरानी सहित पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं. इसके साथ ही नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (NCOC) ने कोरोना वैक्सीन को आतंकी हमलों से बचाने के लिए गाइडलाइन जारी की है. इंटरपोल ने फर्जीवाड़े, चोरी और अवैध विज्ञापनों को लेकर अलर्ट जारी किया है. किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए, जैसे कि आतंकवादी हमला या कोरोना टीकों को नकली टीकों से बदले जाने से रोकने के लिए टीकों के परिवहन, भंडारण और प्रशासन के लिए योजना बनाई गई है.

अज्ञात स्थानों पर किया गया स्टोर
कोरोना वैक्सीन को स्थानीय अपराधियों और आतंकियों से बचाने के लिए उसे अज्ञात स्थान पर रखा गया है. गाइडलाइन में कहा गया है कि कोरोना टीके ले जाने वाले वाहनों के साथ पुलिस, रेंजर्स या सेना का होना अनिवार्य है. इसके साथ ही काफिले में अज्ञात सिक्यॉरिटी भी रहेगी.
https://www.youtube.com/embed/U0_6sH7Yib8

इसमें कहा गया है कि चीन में निर्मित कोरोना टीके सिनोफार्म को पाकिस्तान में स्वास्थ्यकर्मियों को लगाया जा रहा है और इसके लिए 1 फरवरी को देशभर के सभी प्रांतों में 70 हजार टीके भेजे गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed