केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने संकल्प पत्र जारी करते हुए कि ममता बनर्जी ने राजनीति का अपराधीकरण कर दिया है.

Bengal Election : अमित शाह ने बीजेपी का 'संकल्प पत्र' किया जारी, किया 'सोनार बांग्ला' बनाने का वादा, लागू होगा 'सीएए'

चुनावी घोषणा पत्र बीजेपी ने किया जारी

केंद्रीय गृह मत्री अमित शाह (Amit Shah) ने संकल्प पत्र जारी किया. ईजेडसीसी में आयोजित कार्यक्रम में चुनावी घोषणा पत्र के माध्यम से बंगाल को ‘सोनार बांग्ला’ बनाने का वादा किया गया है. राज्य की सरकारी नौकरियों में 33 फीसदी आरक्षण, पीएम सम्मान निधि योजना के तहत 75 हजार किसानों को 18 हजार रुपये एक साथ बिना कट मनी को दिया जाएगा. भारत सरकार के छह हजार रुपये और राज्य सरकार का चार हजार रुपये जोड़ कर 10 हजार रुपये किसानों को दिए जाएंगे. मछुआरों प्रति वर्ष 6000 रुपये दिए जाएंगे. 60 करोड़ रुपये लोगों के बीच आयुष्मान भारत योजना भी लागू किया जाएगा. इसके तहत पहले कैबिनेट में आयुष्मान भारत का लाभ दिया जाएगा. वन नेशन, वन आई कार्ड की शुरुआत किया जाएगा और सरकार बनने के बाद पहली कैबिनेट में शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी. राजनीतिक हिंसा के पीड़ित लोगों को 25 लाख रुपये दिए जाएंगे और निष्पक्ष चुनाव हो. यह सुनिश्चित करेंगे.

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि यह केवल घोषणा नहीं है. संकल्प है. देश में 16 राज्यों में राज्य सरकार है. उस पार्टी का संकल्प है. हमारे लिए यह संकल्प पत्र बहुत महत्वपूर्ण है. इसका मूल आधार ‘सोनार बांग्ला’ की रचना है. वर्षों तक बंगाल देश का नेतृत्व करता है. हर चीज में बंगाल भारत से आगे रहता था. आज आजाद और प्रगति भारत की नींव बंगाल में रखी गई थी. जब पूरा देश अनेक कुरीतियों में था, तब बंगाल के सपूतों ने सामाजिक सुधार की शुरुआत की थी. उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य सहित हर क्षेत्र में विकास किया जाएगा. उन्होंने कहा कि एमएसएमई को 10 लाख रुपए तक लोन देने और कम दर पर बिजली की सुविधा दी जाएगी. इससे रोजगार का सृजन किया  जाएगा. उन्होंने कहा कि सारे जूट मिलों का आधुनिकरण किया जाएगा.

10 वर्षों में ममता के शासन में कुशासन मिला

उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में टीएमसी के शासन कुशासन की शुरुआत की थी. 130 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है. संघीय व्यवस्था में विरोध की व्यवस्था है, लेकिन पहले कम्युनिस्टों ने और अब ममता जी ने इसे तोड़ा है. संकल्प पत्र में असल परिवर्तन के लिए लाए हैं और सोनार बांग्ला के लिए लाये हैं. बीजेपी के कार्यकर्ता साल 2016 से काम कर रहे हैं.

घुसपैठ को पूरी तरह से लगेगी लगाम, लागू होगा सातवां वेतन आयोग

अमित शाह ने कहा कि घुसपैठ  पर पूरी तरह से लगाम लगेगी. हर धर्म का त्यौहार बिना रोक टोक के बनाया जाएगा. 70 साल से जो शरणार्थी बंगाल में आकर बसे हैं. वे अवैध तरीके से रहे हैं. नागरिकता संशोधन कानून को पहले कैबिनेट में लागू किया जाएगा. प्रत्येक शरणार्थी परिवार को 10 हजार रुपये दिए जाएंगे. ओबीसी आरक्षण की सूची में तेली और महिष को भी शामिल किया जाएगा. महिलाओं को निःशुल्क केजी से पीजी तक शिक्षा दी जाएगी. पब्लिक ट्रांसपोर्ट में निःशुल्क यात्रा की सुविधा देगी. हर परिवार में एक सदस्य को रोजगार दिया जाएगा. सरकार बनने के बाद सातवां वेतन आयोग सभी कर्मचारियों को दिया जाएगा. सीएमओ में एंटी क्रप्शन हेल्प लाइन बनाया जाएगा. नोबल पुरस्कार पर टैगोर पुरस्कार और ऑस्कर पुरस्कार की तर्ज पर सत्यजीत राय पुरस्कार बनाया जाएगा.

आयुष्मान भारत और पीएम किसान सम्मान निधि होगा लागू

बंगाल में ममता सरकार ने आयुष्मान भारत और पीएम किसान योजना लागू नहीं किया है, लेकिन बीजेपी की सरकार ने न केवल बंगाल में आयुष्मान भारत और पीएम किसान योजना लागू करेगी, वरन पीएम किसान योजना का बकाया भी किसानों को देगी. इसके साथ ही मछुआरों को भी सुविधाएं भी दी जाएगी. किसानों और मछुआरों को तीन लाख रुपए तक बीमा दिया जाएगा.

विधानसभा क्षेत्रों में सुझाव के लिए घूमी गाड़ियां, लिया है सुझाव

बीजेपी के बंगाल ईकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि राज्य में परिवर्तन होगा. चुनाव में चुनावी घोषणा पत्र एक परंपरा बन जाता है. यह संकल्प पत्र है. हम बंगाल को कैसा बनाना चाहते हैं. पिछले एक माह से 30-40 गाड़ी एक बक्सा लेकर घूमा है. कैसा बंगाल चाहते हैं. बीजेपी से आप क्या चाहते हैं. प्रत्येक विधानसभा में यह गाड़ी घूमी है. अगले दिन बीजेपी कैसा बंगाल सरकार होगा. इसका चित्रण होगा. उन्होंने कहा कि 19 में हॉफ और 21 में साफ होगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी जो कहती है, वही करती है. उससे ज्यादा करती है. यदि कश्मीर में धारा 370 हट सकती, राम मंदिर बनना शुरू हो सकता है, तो बंगाल में परिवर्तन भी हो सकता है. दो मई के बाद सरकार परिवर्तन होगा और नया बंगाल बनेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed