दिलीप कुमार के जाने के बाद एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लिए एक और बुरी खबर सामने आई है. फिल्ममेकर कुमार रामसे भी इस दुनिया को छोड़कर चले गए हैं.

हॉरर फिल्मों के लिए मशहूर 'रामसे ब्रदर्स' के कुमार रामसे का दिल का दौरा पड़ने से निधन

कुमार रामसे का दिल का दौरा पड़ने से निधन

रामसे ब्रदर्स की ज्यादातर डरावनी फिल्मों की पटकथा लिखने वाले प्रसिद्ध फिल्ममेकर कुमार रामसे का दिल का दौरा पड़ने से गुरुवार को निधन हो गया है. कुमार रामसे की उम्र 85 साल थी. कुमार के बड़े बेटे गोपाल ने पीटीआई-भाषा को बताया कि कुमार ने मुंबई में हीरानंदानी में अपने आवास में अंतिम सांस ली. कुमार के परिवार में उनकी पत्नी शीला और तीन बेटे राज, गोपाल और सुनील हैं.

गोपाल ने कहा, ‘आज सुबह साढ़े पांच बजे दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई. वह हम सबको छोड़कर चले गए. अंतिम संस्कार करीब 12 बजे किया जाएगा. हम पुजारी के आने का इंतजार कर रहे हैं.’

बता दें कि कुमार फिल्म निर्माता एफ यू रामसे के बेटे और सात भाइयों में सबसे बड़े थे. रामसे भाइयों में केशु, तुलसी, करण, श्याम, गंगू और अर्जुन शामिल थे जिनका डरावनी फिल्मों के निर्माण में‍ बोलबाला था. वे 70 और 80 के दशक में कम बजट वाली कल्ट ( खास समूह को पसंद आने वाली) फिल्में बनाते थे.

कुमार रामसे ब्रदर्स की ज्यादातर फिल्मों की स्क्रिप्ट लिखने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते थे जिनमें ‘पुराना मंदिर’ (1984), ‘साया’ और ‘खोज’ (1989) शामिल हैं. ‘साया में मुख्य भूमिका शत्रुघ्न सिन्हा ने निभाई थी और 1989 की हिट फिल्म ‘खोज’ में अभिनेता ऋषि कपूर और नसीरुद्दीन शाह मुख्य भूमिकाओं में थे. उन्होंने 1979 में ‘और कौन?’ तथा 1981 में ‘दहशत’ जैसी फिल्मों का भी निर्माण किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed