जम्मू एयरफोर्स स्टेशन (Jammu Air Force Station) पर हुए ड्रोन हमले के बाद से पिछले कुछ दिनों में जम्मू में कई ड्रोन दिखाई दिए हैं. अब सुरक्षबल सभी हरकतों पर नजर बनाए हुए हैं.

Jammu-Kashmir: जम्मू के रायपुर सतवारी इलाके में फिर देखा गया ड्रोन, अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

जम्मू एयरबेस हमले के बाद कई बार देखी गई ड्रोन एक्टिविटी (सांकेतिक तस्वीर)

जम्मू के सतवारी इलाके में एक बार ड्रोन की हरकत देखी गई है. यह ड्रोन आज सुबह करीब 4:15 पर रायपुर सतवारी में दिखा. सतवारी इलाके में इस ड्रोन को सबसे पहले सेना के जवानों ने देखा. इसके बाद सेना ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में भी इसे लेकर सूचना दी है. इसके बाद से ही सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं. इलाके में तलाशी अभियान लगातार जारी है.

ड्रोन को लेकर भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने 10 जुलाई को बड़ा ऐलान किया था. नए आदेश में कहा गया था कि अगर नेवल बेस के आसपास ड्रोन नहीं उड़ते हुए देखा गया तो उसे तुरंत नष्ट कर दिया जाए. ड्रोन के साथ-साथ प्रोईवेट हवाई जहाज की उड़ान पर भी रोक लगा दी गई है. ड्रोन उड़ाने वालों पर भी कड़ी कानूनी कार्यवाई की जाएगी.

कई बार देखे जा चुके हैं ड्रोन

जम्मू-कश्मीर में इन दिनों लगातार ड्रोन उड़ते नजर आ रहे हैं. जम्मू में एयर फोर्स स्टेशन पर हुए ड्रोन हमले और उसके बाद सीमा पर पाकिस्तान की घुसपैठ की कोशिशों के बीच सेना ने पाकिस्तान से सटी एलओसी पर गश्त बढ़ा दी है. अब सुरक्षबल सभी हरकतों पर नजर बनाए हुए हैं.

वहीं, श्रीनगर में भी पहले से ड्रोन उड़ाने पर पाबंदी जारी है. अब भारतीय नौसेना ने भी ये फैसला ले लिया है. सेना की तरफ स्पष्ट कहा गया है कि ड्रोन के जरिए हमला ज्यादा ताकतवर और खतरनाक हो सकता है.

जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास 14 जुलाई की रात करीब 10 बजे एक बार फिर ड्रोन देखा गया. ड्रोन दिखने पर सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने पांच से छह राउंड फायरिंग की, जिसके बाद वो वापस पाकिस्तान की सीमा में चला गया. इस मामले में बीएसएफ ने बयान जारी कर कहा था कि 13 और 14 जुलाई की रात को अरनिया सेक्टर में बीएसएफ जवानों ने लगभग 9 बजकर 52 मिनट पर 200 मीटर की दूरी पर एक टिमटिमाती लाल लाइट चमकती हुई देखी.

जम्मू में सुरक्षा एजेंसियों ने एयरफोर्स स्टेशन पर लगाया एंटी ड्रोन सिस्टम

अगले दिन फिर ड्रोन देखे गए और इस बार जम्मू के मीरन साहिब, कालूचक और कुंजवानी इलाकों में ड्रोन देखे गए. 2 जुलाई को भी अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास ड्रोन देखा गया. ड्रोन खतरे के मद्देनजर जम्मू में सुरक्षा एजेंसियों ने एयरफोर्स स्टेशन पर एंटी ड्रोन सिस्टम लगाया है. उधर ड्रोन और सीमा पार सुरंगों से खतरों के मद्देनजर बीएसएफ ने शुक्रवार को इन सीमा सुरक्षा चुनौतियों का समाधान खोजने के लिए 500 भारतीय कंपनियों के साथ मिलकर नई पहल की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed