ऐसा माना जा रहा है कि राज कुंद्रा की गिरफ़्तारी मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में शुरू हुए सीएम उद्धव ठाकरे के ‘ऑपरेशन क्लीन’ का पहला पड़ाव है. मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नागराले को इस ऑपरेशन की जिम्मेदारी दी गई है और इसके निशाने पर बॉलीवुड में कलाकारों का शोषण कर रहे लोग हैं.

Raj Kundra Case: ठाकरे सरकार के 'ऑपरेशन क्लीन' का नतीजा है राज कुंद्रा की गिरफ्तारी! कमिश्नर हेमंत नागराले लगे हैं सफाई में

राज कुंद्रा मामले के तार ‘बॉलीवुड माफिया’ से भी जुड़ सकते हैं.

अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेमैसन राज कुंद्रा को पोर्न फिल्मों (Raj Kundra Prosopography Case) के कारोबार से संबंधित एक मामले में सोमवार को मुंबई क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है. मिली जानकारी के मुताबिक राज कुंद्रा जैसी बड़ी हस्ती की गिरफ़्तारी मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में शुरू हुए ‘ऑपरेशन क्लीन’ का पहला पड़ाव है. जानकारों के मुताबिक सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackrey) बॉलीवुड की गंदगी को साफ़ करने को लेकर काफी गंभीर है और इसकी जिम्मेदारी उन्होंने आईपीएस हेमंत नागराले (Commissioner Hemant Nagrale) को दी है जो कि फिलहाल मुंबई पुलिस कमिश्नर भी हैं. सीएम उद्धव को इस तरह की जानकारियां मिलती रही हैं कि इंडस्ट्री में एक संगठित माफिया काम कर रहा है जो कि न सिर्फ इस तरह के बिजनेस में लिप्त है बल्कि अन्य कलाकारों को फिल्में बंद करा देने जैसी धमकियों के सहारे गलत कामों के लिए मजबूर करता है.

राज कुंद्रा अक्सर सुर्ख़ियों में रहे हैं IPL सट्टेबाजी, इकबाल मिर्ची से संबंध के अलावा कई ऐक्ट्रेस पहले भी उनके खिलाफ शिकायतें करती रही हैं. वे इस साल फरवरी में ही अपने ऐप को लेकर सुर्ख़ियों में आए थे और मलाड में पुलिस की रेड पड़ने के बावजूद भी उन्होंने ‘बॉलीफेम’ नाम का एक नया ओटीटी लॉन्च कर दिया था. इस OTT पर कंटेंट की रेटिंग ‘सेक्सुअल थीम्स’ बताई गई थी. इस प्लेटफॉर्म के लिए गायिका पलक मुच्छल के भाई पलाश मुच्छल ने एक वेब सीरीज की थी जिसमें एक ऑटो में लगे हिडेन कैमरे के जरिए सवारियों की हरकतें शूट की जा रही थीं. ये वेब सीरीज भी मुंबई प्रशासन को खुली चुनौती की तरह थी और उनके खिलाफ शिकायत भी हुई थी.

उद्धव सरकार ने सफाई अभियान शुरू किया!

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलीवुड ड्रग रैकेट का भी पर्दाफाश हुआ था. जानकारों के मुताबिक मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई पुलिस कमिश्नर के पद पर तैनाती के समय ही आईपीएस हेमंत नागराले को स्पष्ट कहा था कि अब फिल्म इंडस्ट्री की सफाई का समय आ गया है. हेमंत नागराले ने ड्यूटी संभालते ही फिल्म इंडस्ट्री के अलावा वेब सीरीज, टीवी सीरीज के अलावा ओशिवारा, गोरेगांव, मलाड, मड आइलैंड और मालवणी जैसे इलाकों में होने वाली उन शूटिंग के बारे में पुख्ता जानकारी इकठ्ठा कराना शुरू कर दिया था. मुंबई पुलिस के अलावा महाराष्ट्र के दूसरे शहरों व जिलों की पुलिस को भी इस बाबत स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी कलाकार या तकनीशियन से जबर्दस्ती किए जाने की सूचना मिलते ही इस पर तुरंत कार्रवाई की जाए.

कलाकारों का शोषण कर रहे लोग हैं निशाने पर

मुंबई पुलिस ने उन लोगों को तलाश करना शुरू किया जो कि मुंबई आए कलाकारों का डरा-धमकाकर शोषण कर रहे थे. इनमें बड़ी संख्या में छोटे शहरों से आई लड़कियां शामिल हैं. मराठी कला निर्देशक राजू साप्ते की आत्महत्या का मामला ऐसा ही है, जिसमें इस बॉलीवुड माफिया ने उन्हें शूटिंग ही नहीं करने दी. राज कुंद्रा भी इस गैंग का ही हिस्सा माने जाते रहे हैं. उन पर भी गहना वशिष्ठ, पूनम पांडे, शर्लिन चोपड़ा और सागरिका सोनम नाम की मॉडल-ऐक्ट्रेस ने गंभीर आरोप लगाए हैं. आरोप है कि ये लोग इन कलाकारों से काम देने के नाम पर सादे कागजों पर दस्तखत कराकर रख लेते हैं, बाद में अपने मन से काम के नियम और शर्तें बना ली जाती हैं. न्यूड ऑडिशन की डिमांड से जुड़ा मामला भी कुछ ऐसा है है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed